UP Ration Card free 5 lakh health Assistant, details here

Ration Card: भारत में रह रहे हैं लोगों के लिए राशन कार्ड एक ऐसी दस्तावेज है जिसके जरिए लोगों को कम दाम तथा मुफ्त में राशन मिलता है, इस कार्ड के जरिए सरकार से भी कई तरह की योजना का फायदा मिलता है, राशन कार्ड हमारे पहचान पत्र के तौर पर भी काम आती है, राशन कार्ड के कई कैटेगरी होती है जिसे भिन्न-भिन्न लोगों को दिया जाता है अलग-अलग कैटेगरी में, बात करें उत्तर प्रदेश के अंत्योदय कार्ड ( Antyodaya (AAY) ration card ) धारकों की तो उनके लिए एक खुशखबरी है, आपको बता दें उत्तर प्रदेश सरकार प्रति परिवार मैं 5 लाख तक का निशुल्क चिकित्सा उपलब्ध कराएगी, उत्तर प्रदेश में रहने वाले 40 लाख से भी ज्यादा लोगों को इसका लाभ मिलेगा, आइए जानते हैं इस योजना के बारे में अधिक और कैसे इसमें आवेदन करना है ये जानने के लिए पूरा पढ़े हमारे इस लेख को। 

उत्तर प्रदेश के 40 लाख से अधिक अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को 5 लाख प्रति वर्ष तक निशुल्क चिकित्सा सुविधा मिलने वाली है सरकार की ओर से, आपको बता दें सरकार की ओर से 16131 करोड रुपए का अनुदान की मांग पारित की गई थी, इससे राज्य के रहने वाले गरीब तबके के लोगों को आयुष्मान भारत पीएम जन आरोग्य योजना के तहत 5 लाख तक की निशुल्क चिकित्सा सुविधा प्रदान किया जाएगा हर परिवार में। 

राशन कार्ड से 5 लाख तक का इलाज 

अगर आप उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं और राशन कार्ड के इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप सबसे पहले गोल्डन कार्ड बनवा लें, गोल्डन कार्ड बनाने की प्रक्रिया आपकी नजदीकी सीएससी सेंटर से जाकर प्राप्त कर सकते हैं आप, इसके बाद सरकार की ओर से राशन कार्ड धारकों की सूची को हर 6 महीने में अपडेट कर दिया जाएगा, प्रदेश में सूचीबद्ध 2700 से अधिक सरकारी और निजी अस्पतालों में लोगों को साल मे 5 लाख तक का इलाज मिलेगा मुफ्त, इस कार्ड के मदद से आप शरीर के कई गंभीर बीमारियों का इलाज मुफ्त में करवा सकते हैं जैसे कि कैंसर, ब्रेन ट्यूमर, ईद रोग, किडनी ट्रांसप्लांट, नी ट्रांसप्लांट इत्यादि। 

आपको बता दें कोरोना महामारी के वक्त से लोगों की जिंदगी में कई मुश्किलें आई है और सेहत को लेकर भी लोगों में काफी ज्यादा डर बना रहता है, ऐसे में सरकार की आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाकर आप मुफ्त में इलाज करवा सकते हैं, आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के बाद आपको कई तरह की सुविधाएं सरकार की ओर से मिलती है, इसमें आपको 500000 तक का मुफ्त इलाज मिलता है सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों में, इस काट के तहत आप कोरोना वायरस बीमारी से संबंधित इलाज भी करवा सकते हैं। 

कार्ड बनाने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो 

यूपी सरकार का मकसद 

योगी सरकार की इस फैसले से अंत्योदय कार्ड धारकों को काफी ज्यादा लाभ मिलने वाला है, काट डालो को कौन बीमारी में होने वाले खर्च की चिंता अब नहीं करनी पड़ेगी, उन्हें इलाज के खर्चे से सुरक्षा तो मिलेगी साथ ही इस कार्ड के वजह से कई और भी लाभ मिलेंगे। 

प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख की मदद 

उत्तर प्रदेश में रहने वाले गरीब तबके की लोगों के लिए सरकार ने स्वास्थ्य सुरक्षा देने का ऐलान किया था, आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का संचालन किया था सरकार ने इस योजना के तहत चयनित परिवारों को सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों में प्रति परिवार प्रति वर्षा ₹500000 तक का इलाज मुफ्त में प्रदान किया जाएगा। 

Leave a Comment