Solar Pumps Subsidy: सोलर पंप लगवाने पर किसानों को मिलेगी 60% की सब्सिडी, ऐसे करें आवेदन

Solar Pumps Subsidy: देशभर में केंद्र सरकार किसानों को आर्थिक रूप से समर्थ बनाने के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है। इस मुहिम के तहत केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर कई ऐसी योजनाएं चला रही है जिससे किसान आर्थिक रूप से सशक्त हो सके। सरकार की मंशा है कि किसानों को उनके पास मौजूद संसाधनों की मदद से ही कम लागत में अधिक मुनाफा कमाने के काबिल बनाया जा सके। ऐसे ही एक योजना है जिसका नाम है सोलर पंप संयंत्र योजना। सरकार सोलर पंप संयंत्र लगवाने पर किसानों को भारी सब्सिडी प्रदान करती है।

आज हम आपको सोलर पंप संयंत्र लगवाने पर मिलने वाली सब्सिडी के बारे में बताने वाले हैं। सोलर पंप की मदद से किसान न केवल अपने खेतों की सिंचाई कर सकते हैं बल्कि इसकी मदद से किसान बिजली का भी उत्पादन कर सकते हैं। इस बिजली का उत्पादन करके किसान इसे विद्युत विभाग को भी बेच सकते हैं और इससे उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत होने का एक मौका मिलता है। इस सोलर पंप को लगवाने के लिए किसानों को अपनी किसी भी बंजर जमीन पर संयंत्र स्थापित करने होंगे। किसानों को इस बात के लिए घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है कि उनके पास इसके लिए लागत कहां से आएगी। जी हां दोस्तों सरकार किसानों को इसके लिए 30% तक की लोन सुविधा भी उपलब्ध करवाती है। किसानों को इसके लिए केवल 10% तक की ही लागत लगानी पड़ती है। इसके अलावा सारी सुविधाएं सरकार की ओर से उन्हें मुहैया करवाई जाती है। सोलर पंप संयंत्र को केवल 3 से 4 एकड़ भूमि में लगवाने पर किसान इसकी मदद से साल भर में 45 लाख रुपए तक की आय प्राप्त कर सकता है।

Ration Card List 2022
UP Free Scooty Yojana 2022
PM Kisan Yojana ekyc 2022

सोलर पंप संयंत्र के बारे में अधिक से अधिक जानने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक पूरा पढ़ें। आज के इस लेख में हम आपको सोलर पंप संयंत्र पर मिलने वाली सब्सिडी के बारे में संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। हम आपको बताएंगे इसके क्या-क्या लाभ हैं। किसान सोलर पंप संयंत्र सब्सिडी की सहायता से कैसे आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकता है। इससे जुड़ी सभी जानकारियां प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को पूरा पढ़ें।

Solar Pumps Subsidy-

केंद्र सरकार किसानों को आर्थिक रूप से समर्थ बनाने के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है। इस मुहिम के तहत केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ मिलकर कई ऐसी योजनाएं चला रही है जिससे किसान आर्थिक रूप से सशक्त हो सके। सोलर पंप संयंत्र लगवाने पर मिलने वाली सब्सिडी के बारे में बताने वाले हैं। सोलर पंप की मदद से किसान न केवल अपने खेतों की सिंचाई कर सकते हैं बल्कि इसकी मदद से किसान बिजली का भी उत्पादन कर सकते हैं। इस बिजली का उत्पादन करके किसान इसे विद्युत विभाग को भी बेच सकते हैं और इससे उन्हें आर्थिक रूप से मजबूत होने का एक मौका मिलता है।

इस सोलर पंप को लगवाने के लिए किसानों को अपनी किसी भी बंजर जमीन पर संयंत्र स्थापित करने होंगे। किसानों को इस बात के लिए घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है कि उनके पास इसके लिए लागत कहां से आएगी। जी हां दोस्तों सरकार किसानों को इसके लिए 30% तक की लोन सुविधा भी उपलब्ध करवाती है। किसानों को इसके लिए केवल 10% तक की ही लागत लगानी पड़ती है। इसके अलावा सारी सुविधाएं सरकार की ओर से उन्हें मुहैया करवाई जाती है। सोलर पंप संयंत्र को केवल 3 से 4 एकड़ भूमि में लगवाने पर किसान इसकी मदद से साल भर में 45 लाख रुपए तक की आय प्राप्त कर सकता है।

Solar Pumps Subsidy Overview

आर्टिकल सोलर पंप सब्सिडी
कैटेगरीGovernment Scheme
उद्देश्य सिंचाई पंप उपलब्ध कराना
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट https://pmkusum.mnre.gov.in/landing.html

Solar Pump Yojana: सोलर पंप से कितनी बिजली का उत्पादन होता है?

सोलर पंप एक बहुत ही लाभकारी यंत्र है। इसकी मदद से किसान न केवल अपने खेतों की सिंचाई कर सकते हैं बल्कि इससे किसान अपने बंजर खेतों को भी उपयोग में ला सकते हैं। किसान अपनी अनउपजाऊ जमीन पर सोलर संयंत्र लगाकर लाखों का मुनाफा कमा सकते हैं। विशेषज्ञ बताते हैं कि किसान को एक मेगावट सौर उर्जा सयंत्र की स्थापित करने के लिए तकरीबन 4 से 5 एकड़ खाली जमीन की जरूरत पड़ती है। 4 से 5 एकड़ के अंदर साल भर में 15 लाख यूनिट बिजली का उत्पादन किया जा सकता है। किसानों द्वारा उत्पादित की गई इस बिजली को बिजली विभाग 3 रुपए 7 पैसे टैरिफ के भाव से खरीदा जाता है। आपको पता नहीं कि किसान इस सोलर पंप संयंत्र की मदद से साल भर में 45 लाख रुपए की आय प्राप्त कर सकते हैं।

कौन कर सकता है आवदेन (Who Can Apply For Solar Pumps Subsidy)-

सोलर पंप सब्सिडी कुसुम योजना के तहत दी जाती है। इस योजना के लिए कुछ ही लोग पात्र माने जाते हैं जिसके बारे में हमने नीचे बताया है।

  • किसान
  • पंचायत
  • सहकारी समितियों का समूह

सोलर पंप पर मिलेगी 60% तक की सब्सिडी-

सरकार की कुसुम योजना के तहत किसान, पंचायत, सहकारी समितियों का समूह सोलर पंप लगवाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। दोस्तों इस योजना के तहत सरकार सोलर पंप संयंत्र लगवाने वाले लोगों को 60% तक की सब्सिडी प्रदान करती है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह भी है कि सरकार लागत के लिए 30% तक का लोन भी प्रदान करती है। यदि मुनाफे की बात की जाए तो उसको देखते हुए किसानों को इस प्रोजेक्ट के लिए केवल 10% तक का ही खर्च करना पड़ता है। इस वक्त कई राज्य सरकारें केंद्र सरकार के साथ मिलकर इस योजना को अलग-अलग स्तरों पर चला रही है।

यदि कोई किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहता है तो उसे अपने राज्य के विद्युत विभाग से संपर्क साधना होगा। इस योजना के लिए विद्युत विभाग किसानों की बंजर जमीन पर 10,000 मेगावाट विकेंद्रीकृत नवीकरणीय ऊर्जा संयंत्रों की स्थापना करता है। दोस्तों आप जानकर हैरान रह जाएंगे कि इस योजना के तहत किसानों को सौर पंप संयंत्र स्थापित करने के लिए 17.5 लाख रुपए तक का फंड भी प्रदान किया जाएगा।

सोलर पंप संयंत्र योजना के लिए आवेदन कैसे करें?-

अगर आप भी सोलर पंप संयंत्र योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो नीचे हमारे बताएं स्टेप्स को फॉलो करें।

  • फ्री सोलर पंप संयंत्र योजना का लाभ उठाने के लिए आपको सबसे पहले अपने नजदीकी कृषि केंद्र में जाना होगा।
  • यहां आपको फ्री सोलर पंप संयंत्र योजना आवेदन का फॉर्म मिलेगा। यहां आप इससे संबंधित सभी जानकारियां भी प्राप्त कर सकते हैं।
  • अपने आवेदन फॉर्म में सभी जरूरी जानकारियां ध्यान पूर्वक भरें।
  • अब अपने फॉर्म के साथ सभी जरूरी दस्तावेजों को अटैच करें।
  • अपने भरे हुए आवेदन फॉर्म को कृषि कार्यालय में जमा करें। कृषि कार्यालय के अधिकारी आपका ऑनलाइन आवेदन खुद-ब-खुद कर देंगे।
  • इस प्रक्रिया के साथ आप भी फ्री सोलर पंप संयंत्र योजना के लिए आवेदन कर सकेंगे।

Solar Pumps Subsidy पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQ)-

सोलर पैनल पर सब्सिडी कैसे मिलती है?

इस योजना के लिए ग्रामीण किसान आवेदन कर सकते हैं।

1 किलोवाट सोलर पैनल लगाने में कितना खर्चा आएगा?

1 किलोवाट सोलर पैनल लगवाने का खर्च लगभग 60,000 से 65,000 रुपए के बीच आता है।

ऑनलाइन सोलर पंप रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

सोलर पंप योजना के लिए रजिस्टर्ड करने के लिए आपको इसके ऑफिशल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।

Leave a Comment